गुरुवार, 9 मार्च 2017

सास पसंद नहीं करती तो इसमें महिलाओं की गलती नहीं





हाल ही में चेतन भगत द्वारा भारतीय महिलाओं के लिए लिखा गया पत्र, सोशल मीडिया पर खासा वायरल हो रहा है। यह पत्र दरअसल एक अध्ययन की रिपोर्ट के जवाब में लिखा गया है, जिसमें यह खुलासा किया गया है कि भारतीय महिलाएं, विश्व की अन्य महिलाओं की तुलना में सबसे ज्यादा तनाव में होती हैं। चेतन भगत का कहना है कि हम महिलाओं के साथ क्या कर रहे हैं, मैं पक्ष ले रहा हूं, लेकिन भारतीय महिलाएं दुनिया की सबसे खूबसूरत महिलाएं हैं। एक मां, बहन, बेटी, सहकर्मी, पत्नी या प्रेमिका के रूप में हम उन्हें प्रेम करते हैं। क्या आप महिलाओं के बगैर जीवन की कल्पना कर सकते हैं? जानें, कौन सी 5 सलाह दी चेतन भगत ने महिलाओं को…

1 पहली बात, कभी मत सोचिए कि आप निशक्त या असक्षम हैं हैं। अगर आपकी सास आपको पसंद नहीं करती, उनके विचार उन पर ही छोड़ दीजिए। आप वही रहिए, जो आप वाकई हैं, ना कि वह जो आपके होने या बन जाने की अपेक्षा की गई है। अगर आपको पसंद नहीं किया जा रहा, तो यह उनकी समस्या है, आपकी नहीं।
2 दूसरी बात, अगर आप कार्यस्थल पर अच्छा कार्य कर रही हैं, और इसके बावजूद आपके बॉस आपको महत्व नहीं देते, तो उनसे बात कीजिए या फिर जॉब छोड़ दीजि‍ए। प्रतिभावान, मेहनती लोगों की हर जगह बहुत आवश्यकता है।
3 तीसरी बात, खुद को शिक्षित करें, हुनर सीखें, पहुंच बनाएं और आर्थ‍िक रूप से मजबूत बनाने के लिए प्रयास करें। अगली बार अगर पति आपसे कहते हैं कि आप एक अच्छी पत्नी, मां या बहू नहीं हैं तो आप बेशक उन्हें सही जवाब दे सकती हैं या हालात बिगड़ने पर चलता कर सकती हैं।
4 चौथी बात, अपने ऊपर दोगुनी जिम्मेदारियां होने पर कभी तनाव मत पालिए। यह करना कठिन है, लेकिन असंभव नहीं। आप कोई परीक्षा नहीं दे रही हैं, इसलिए हर बार अच्छे या सौ में से सौ नंबर लाने की उम्मीद मत कीजिए। अगर आप लंच के लिए चार व्यंजन नहीं बनातीं, तो भी ठीक है। एक प्रकार के व्यंजन या भोजन से भी पेट भरा जा सकता है। अगर आप देर रात तक काम नहीं या आपको प्रमोशन नहीं मिलता, तो भी ठीक है क्योंकि जीवन के अंतिम दिन अपनी जॉब और पद किसी को याद नहीं रहता।
5 पांचवी और सबसे महत्वपूर्ण बात, किसी अन्य महिला से अपनी तुलना या स्पर्धा बिल्कुत मत कीजिए। यह बातकोई मायने नहीं रखती कि उनके लिए कोई आपसे बेहतर स्क्रेबबुक लिखेगा, या दूसरा कोई बेहतर डाइट के जरिए जदा वजन कम करेगा। आपकी पड़ोसन अपने पति के लिए
6 डब्बों वाला टिफिन तैयार करके देती हो, और आप वो नहीं करती, तो इसमें कोई हर्ज नहीं है। बस, आप अपना काम बेहतर तरीके से करें, लेकिन अपना रिपोर्ट कार्ड पर ध्यान न दें या ही खुद से, सबसे बेहतरीन होने की उम्मीद करें। इस दुनिया में ऐसी कोई औरत नहीं है जो बिल्कुल आदर्श महिला हो। और अगर आप वह बनने की कोशिश कर रही हैं, तो आप सिर्फ एक ही चीज पा सकेंगी, वह है तनाव।
तो सांस ली‍जि‍ए, रिलेक्स हो जाएं और खुद को बताएं, कि आप खूबसूरत हैं। अपनी क्षमता अनुसार बेहतरीन काम करें और खुद को एक शांतिपूर्ण और सुकून से भरी जिंदगी का हकदार बनाएं। अगर कोई आपसे दूर जाना चाह रहा है, तो यह उनकी गलती है, आपकी नहीं। आपका इस धरती पर आने का उद्देश्य किसी को रिझाना या संतुष्ट करना नहीं है। आपका उद्देश्य वो है, जो आप करना चाहते हैं, और इसके बदले में एक अच्छी अच्छी जिंदगी बिताना भी। तो अगली बार इस सर्वे में, मैं भारतीय महिलाओं को टॉप लिस्ट में नहीं देखना चाहता…मैं उन्हें दुनिया की सबसे खुश और आनंदपूर्ण महिलाओं में देखना चाहता हूं।

फेस बुक से साभार 

2 टिप्‍पणियां:

  1. नाम के अनुरूप चैतन्यता लाने हेतु पुनः धन्यवाद. 🙏🙌🙋

    उत्तर देंहटाएं