गुरुवार, 9 मार्च 2017

तला राशि -कोड़े खाने की सजा पाने के बाद जीता फीयरलेस वुमैन का ख़िताब




औरतें आज जिस बंद अँधेरे तहखाने से नुकल कर आज़ादी की सनस लेने की दिशा में अगसर हुई हैं | उसके पीछे कई औरतों का हाथ है | ये वो औरतें हैं जिन्होंने सामाजिक नियमों की अवहेलना करते हुए | वो काम करने की हिम्मत दिखाई जिसके लिए न सिर्फ उन्हें रोका गया बल्कि सजा भी सरेआम दी गयी |



                  जी हाँ आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसे महिला के बारे में जिसने उस काम को करने की हिम्मत दिखाई जिसके लिए उसे 40 कोड़े खाने पड़े थे | उनका अपराध था मिनी स्कर्ट पहनने का |

कि ईरान की रहने वाली तला के ऊपर काफी पाबंदियां रही हैं। ईरान जैसे इस्लामिक देश में महिलाओं से हमेशा पर्दे में रहने की उम्मीद की जाती है। जानकारी के मुताबिक जब वह 16 साल की थी तो उन्हें और उनके कुछ दोस्तों को पुलिस ने पार्टी करने के दौरान गिरफ्तार कर लिया था और तला को जेल भेज दिया गया था |। यही नहीं तला को मिनी स्कर्ट पहनने पर 40 कोड़ों की सजा भी सुनाई गई थी।  उनके साथ वहां आतंकियों जैसा सलूक हुआ। उन्होंने मिनी स्कर्ट, टाइट टॉप, नेल पॉलिश और मेकअप किया हुआ था। हालांकि यह कोई पहली बार नहीं था। उनको और उनके दोस्तों को शालाघ की सजा दी गई। लड़कियों को 40 कोड़े और लड़कों को 50 कोड़े मारने का आदेश जारी हुआ।

इस घटना के बाद वह अमेरिका आ गई। लेकिन इसके बाद वो दरी नहीं बल्कि उन्हें पुरजोर यकीन हुआ की महिलाओं को उनकी पसंद के कपडे पहनने का अधिकार होना चाहिए | उन्होंने अपने विचारों को आकर देना शुरू किया | जिसके चलते उन्होंने महिलाओं के लिए स्विम वियर डिजाइन करना शुरू किया। 35 साल की उम्र में वह एक मशहूर फैशन लाइन की मालिक हैं


तला का नाम न्यूजवीक मैगजीन में 2012 में मोस्ट फीयरलैस वुमेन की कैटेगरी में शामिल हो चुका है और उनको हिलेरी क्लिंटन और ओप्रा विनफ्रे के साथ जगह दी गई थी। तला आज भी बिना किसी डर के महिलाओं को उनकी मर्जी के कपड़े पहनने देने की आजादी की वकालत करती हैं|

 तला को उनके साहस के लिए सलाम | 

राधिका शर्मा 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें