सोमवार, 19 अक्तूबर 2015

आत्मविश्वास बढ़ाना है तो पीला रंग अपनाइए





ढोलक की थाप पर बजता एक लोक गीत तो आप ने जरूर सुना होगा ...........
"
बन्नी पीली कैसे पड गयी पीहर में रह के 
रे ! बन्ने आई तेरी याद फिकर कर के "
या फिर अंग्रेगी की कहावत "येल्लो -येल्लो डर्टी फेलो "इन सब को सुन कर तो ऐसा लगता है कि पीला रंग तकलीफ बीमारी या दुःख का प्रतीक है........... पर जरा रुकिए याद करिए पीली सरसों के खेत.....जो समृधि और प्रेम की दास्ताँ है ,सूरजमुखी और गेंदे के पीले फूल जो चहरे पर बसबस ही मुस्कान ले आते है और तो और हिन्दू धर्म के सारे भगवान् पीताम्बरधारी हैं पीला पटुका ओढ़े हैं यहाँ तक की उनके चित्रों में सर के पीछे स्वर्णिम पीला चक्र है .तो कुछ तो ख़ास है इस पीले रंग में तो आइये जानते है ..... "पीले रंग के गुण ....


ऊर्जा बढ़ाये पीला रंग :-
************************
रंगों का उर्जा से गहरा तालमेल है |इतना तो आप जानते ही होंगे की हर रंग से तरंगे उत्सर्जित होती हैं .पीला रंग  ऐसी तरंगे पैदा करता हैं जो शरीर को उर्जावान और आत्मविश्वासी बनाता है। साथ ही आपको अपने आत्मविश्वास से सामने वाले को प्रभावित करवाने की क्षमता भी उत्पन्न करता हैं। प्राचीन समय से ही पीले रंग को उर्जावान रंगों की श्रेणी में रखा गया जब पीले रंग के वस्त्र के रूप में पहनते हैं तो आपकी तरक्की और सफलता होना तय हो सकता है।

शोध क्या कहते हैं :-
*********************
हाल ही में अमेरिका में हुए शोध से ये बात सामने आई है कि पीला रंग इंसान की उमंग को बढ़ाने के साथ-साथ दिमाग को भी अधिक सक्रिय करता है। यह अध्धयन अमेरिका में 500 से अधिक महिलाओं पर 3 साल तक किया गया। जिसमें पता लगा कि जो महिलाएं महीने में पीले रंग के कपड़ों को ज्याद पहनती थी उन महिलाओं की कार्यक्षमता और आत्मविश्वास दूसरी महिलाओं की तुलना में काफी अधिक था। अध्धयन में यह बात भी सामने आई की इन महिलाओं को अपने कार्य के साथ-साथ अपने को स्वस्थ बनाने का ध्यान भी अधिक आया।
शेधकर्ताओं का मानना है कि पीले रंग के कपड़े पहने से दिमाग का सोचने समझने वाला हिस्सा अधिक सक्रिय हो जाता है जो इंसान के अंदर उर्जा पैदा करता है। यह रंग इंसान को खुशी और उंमग प्रदान करता है। शायद कुछ लोग ही यह बात जानते हैं कि भारत में बृहस्पतवार को पीले वस्त्र पहनकर पूजा की जाती है। जिसका महत्व उर्जा से ही है।

सुन्दरता बढाए पीला रंग:-
*****************************
कौन है जो सुन्दर नहीं दिखना चाहता जितना यह सच है की बाहरी सुन्दरता का कोई महत्त्व नहीं होता उतना ही यह भी सच है कि .सुन्दरता से सेल्फ लव (आत्मस्वीकारोक्ति ) और कॉन्फिडेंस दोनों बढ़ता है ........ अब हमारी शक्ल  -सूरत तो ईश्वर की दें है पर जरा सी कोशिश से आत्म विश्वास बढ़ सके तो हर्ज ही क्या है? देखा गया है जो लोग पीले वस्त्र पहनते हैं वे दूसरे अन्य लोगों की तुलना में अधिक आकर्षक और सुंदर लगते हैं। पीले वस्त्र पहनने से आत्मविश्वास तो बढ़ता ही है। साथ ही जो उर्जा आपको इन वस्त्रों को पहनने से मिलती है उससे आप अपने सामने वाले लोगों को अधिक प्रभावित कर सकते हैं  पीले रंग से निकलने वाली तरंगे वातावरण में एक ओरा बनाती है। जो किसी को भी प्रभावित कर सकती है।देर कैसी आप भी अपने वस्त्रों की श्रेणी में पीले वस्त्र अधिक से अधिक शामिल करें। ताकी आप भी अपने जीवन का उर्जावान बना सकें।

वस्त्र ही नहीं भोजन भी :-
****************************
पीले रंग के करम केवल वस्त्रों पर ही नहीं हैं यह भोजन में समां कर टेस्ट बड्स के सहारे सहारे हमारे शरीर में घुस कर हमारे स्वास्थ्य को भी चुस्त –दुरुस्त करता है |जान लीजिये  यदि आप पीले रंग के खाद्य का इस्तेमाल करते हैं तो आप स्वस्थ भी बने रहेंगे। आपने यह तो जरूर ही पढ़ा-सुना  होगा की पीले रंग के फलों ,सब्जियों में विटामिन a होता है जो आँखों की रोशिनी की रक्षा करता है .पीले रंग के फल और सब्जियां हमारे शरीर की प्रतिरोधिक शक्ति को बढ़ाते हैं। यह पेट संबंधी बीमारियों को भी दूर करते हैं। पीले फल जैसे पपीता, संतरा आदि और पीली सब्जियों में जैसे पीली शिमला मिर्च आदि का इस्तेमाल बहुतायत से करने वालों को डॉक्टरों के यहाँ कम चक्कर लगाने पड़ते हैं |

क्या कहता है फेंग -सुई :-
***************************
इस संदर्भ में चीन के फेंगशुई विशेषज्ञ चांग वान का कहना है कि पीले रंग के परिधान हमारे दिमाग के उस हिस्से को अधिक एलर्ट करते हैं, जो हमें सोचने-समझने में मदद करता है। यही नहीं पीला रंग खुशी का अहसास कराने में भी मददगार होता है। वान का कहना है कि पीले रंग के परिधान पहनने के साथ ही हमें सप्ताह में दो-तीन बार पीले रंग के खाद्य पदार्थ जैसे पीले फल, पीली सब्जियां और पीले अनाज का भी सेवन करना चाहिए। इससे हमारे शरीर में मौजूद हानिकारक तत्व बाहर निकल जाते हैं। ये हानिकारक तत्व शरीर के अंदर बने रहने पर नर्वस सिस्टम को प्रभावित करते हैं |अवसाद दूर भगाना हो तो पीला रंग चमत्कारी प्रभाव उत्त्पन्न करता है |
                अब पीले रंग में इतने फायदे हैं तो फिर देर कैसी जल्दी से अलमारी से पीले रंग के कपडे निकालिए ,पीले फूलों से घर को सजाइये साथ की ही साथ पीली फल सब्जियां खाइए, क ..... और ऊर्जा ,आत्मविश्वास ख़ुशी व् सुन्दरता से भर जाइए .... और गुनगुनाइए ...........
आई झूम के वसंत झूमों संग -संग में 
रंग लो- रंग लो दिलो को पीले रंग में 

प्रियंका सेठ 
बी .टेक 
सूरत (गुजरात )

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें