शनिवार, 26 सितंबर 2015

सद्विचार










*वही पेड़ तूफानों में भी नहीं उखड़ता है, जिसकी जडें मजबूत होती है. कमजोर पेड़ आँधियों के आने पर उखड़ जाते हैं

* जिंदगी में मुश्किल फैसले लेना आसान नहीं होता है, लेकिन कई बार मुश्किल फैसले लिए बिना काम नहीं चलता है. एक मजबूत व्यक्ति हीं मुश्किल फैसले ले सकता है, कमजोर लोग तो केवल अपनी किस्मत को दोष देते रह जाते हैं

.
* लापरवाही के कारण लोग असीमित क्षमता होने के बावजूद असफल हो जाते हैं. क्योंकि हम अपने अज्ञान को नई बात सीखकर दूर कर सकते हैं, लेकिन लापरवाही का कोई इलाज नहीं होता है.

*अपने रिश्तों को समय दीजिये .......जब कोई व्यक्ति आपके बिना जीना सीख लेता है, तो उसके जीवन में आपका कोई महत्व नहीं रह जाता है. भले हीं अतीत में आप उस व्यक्ति के लिए कितने भी महत्वपूर्ण रहे हों.

उन लोगों की उम्मीदों को कभी न टूटने दें, जिनकी आखिरी उम्मीद आप हीं हैं.

विचारों को पढ़कर छोड़ देने से जीवन में कोई बदलाव नहीं आता है, विचार तभी बदलाव लाते हैं जब विचारों को जीवन में उतारा जाता है.

खुशियाँ मंजिल पर मिलने वाला उपहार नहीं हैं .........वो हर पल है ....... जरा गौर से देखिये

*आप लहरों को नहीं रोक सकते ........पर उन पर सवारी करना सीख सकते हैं

खुश रहने का सबसे आसन तरीका है कि आप रोज के कामों को पूरे उत्त्साह के साथ करें

आंतरिक शांति की शुरुआत तब होती है जब आप इस बात का संकल्प लेते हैं कि आज के बाद किसी दूसरे व्यक्ति को अपने निर्णयों और भावनाओ को नियंत्रित नहीं करने देंगे


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें