रविवार, 20 सितंबर 2015

सेहत का खजाना ......ग्रीन टी


सेहत का खजाना ......ग्रीन  टी 




 चाय तो हम रोज पीते हैं | हर सुबह जब तक एक कप गर्म चाय हलक के नीचे से नहीं उतरती तब तक जिंदगी सोयी रहती हैं पर हम चाय जयतार नार्मल ( दूध ,शक्कर पत्ती वाली )  पीते है चाहे किसी भी ब्रांड की हो| ये ताजगी तो देती है पर हमारी सेहत के लिए नुक्सान दायक भी है | अगर इसके स्थान पर ग्रीन टी पी जाए वो भी सुबह -सुबह तो आप को ताजगी के साथ सेहत भी मिलेगी | कैसे ? दरसल  हरी चाय पीने से कई तरह से स्वास्थ्य को फायदा पहुँचता है, इसलिए पूरी दुनिया में इसके प्रयोग करनेवाले लोगों की संख्या बढ़ रही है और आज यह दुनिया भर में एक बहुत लोकप्रिय पेय बन गया है. आइए हम यह जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर इसके के क्या क्या फायदे हैं:..................



1. ग्रीन टी और हृदय रोग: ग्रीन टी  कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके हृदय रोग और स्ट्रोक को रोकने में मदद करता है. यहां तक कि दिल का दौरा पड़ने के बाद यह कोशिका की मृत्यु को रोकता है और हृदय कोशिकाओं के पुनः बनने की गति को बढाता है.



2. ग्रीन टी और जरा निषेध (anti aging ) : Green Tea में पोलीफेनोल्स  के रूप में एक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो फ्री रेडीकल्स  के खिलाफ लड़ता है. अर्थात यह  उम्र बढ़ने  के खिलाफ लड़ता है और दीर्घायु को बढ़ावा देता है


3. ग्रीन टी और कैंसर: ग्रीन टी कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद करता है. इसमें  में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट विटामिन C से 100 गुना और विटामिन E से 24 गुना अधिक प्रभावी होता है. यह कैंसर से शरीर की कोशिकाओं की रक्षा करने के में मदद करता है.


4. ग्रीन टी और वजन घटाना ( weight loss ) : ग्रीन टी  में के साथ मदद करता है. यह  वसा को जलाती  है और स्वाभाविक रूप से मेटाबोलिज्म  (उपापचय ) दर को बढ़ा देता है.यह सिर्फ एक दिन में 70 कैलोरी को जला देती  है. यह एक वर्ष में लगभग 3-4 किलोग्राम के करीब वजन घटने के बराबर हो जाता है.



5. ग्रीन चाय और त्वचा: ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेट फ्री रेडिकल्स  से त्वचा  की रक्षा करते  है . ये फ्री रेडिकल्स  त्वचा में झुरियाँ पड़ना और स्किन एजिंग जैसे समस्या को जन्म देते हैं. ग्रीन टी त्वचा कैंसर के खिलाफ लड़ाई में भी मदद करता है.



6. ग्रीन टी और गठिया: हरी चाय संधिशोथ ( अर्थराइटिस ) के जोखिम को रोकने और कम करने में मदद करता है. यह  (उपास्थि) को नष्ट कर देनेवाले एंजाइम को अवरुद्ध करके उपास्थि की रक्षा करती है.



7. ग्रीन टी और हड्डियां: हरी चाय  में उच्च फ्लोराइड नामक केमिकल पाया जाता है. यह हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है. यदि आप रोज green टी पीते हैं तो यह आपके बॉन डेंसिटी  (अस्थि घनत्व) को बनाए रखने में मदद करता है.



8. ग्रीन टी और कोलेस्ट्रॉल: ग्रीन टी  कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करती  है. यह खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करती  है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के अनुपात में सुधार लाती  है .


9. ग्रीन टी और मोटापा: ग्रीन टी  वसा कोशिकाओं में ग्लूकोज की आवाजाही को रोक मोटापे से बचाता है. यदि आप स्वस्थ आहार लेते हैं, नियमित रूप से व्यायाम करते हैं और हरी चाय पीते हैं, तो आप मोटापे से कभी भी ग्रस्त नहीं होगें.



10. ग्रीन टी और मधुमेह: ग्रीन  टी  जाहिर तौर पर खाने के बाद रक्त में शर्करा की वृद्धि को धीमा कर ग्लूकोज के स्तर को नियमित करता है. साथ ही यह उपापचय दर  को संतुलित करती है.


11. ग्रीन टी और अल्जाइमर: ग्रीन टी  स्मृति को बढ़ावा देने में मदद करता है. अल्जाइमरलाइलाज है और ग्रीन टी मस्तिष्क में ऐसीटिलकोलीन  की प्रक्रिया को कम कर इसके खतरे को घटाता है. चूहों पर किए गए अध्ययनों से पता चलता है कि हरी चाय क्षतिग्रस्त मस्तिष्क कोशिकाओं मरने से न सिर्फ बचाता है बल्कि क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को रीस्टोर  भी करता है.



12. ग्रीन टी और पार्किंसंस: ग्रीन टी  में मौजूद एंटी ओक्सीडेन्ट्स  मस्तिष्क में कोशिका क्षति को रोकने में मदद करता है अन्यथा यह पार्किंसंस का कारण बन सकता है. हरी चाय पीने वाले लोगों में पार्किंसंस की संभावना कम रहती है.



13. ग्रीन टी और यकृत रोग: ग्रीन टी जिगर की विफलता  के साथ लोगों में प्रत्यारोपण की विफलता को रोकने में मदद करता है.



14. ग्रीन टी और उच्च रक्तचाप: ग्रीन टी उच्च रक्तचाप को रोकने में मदद करता है. हरी चाय पीने से एंजियोटेनसिन को दमन कर रक्तचाप को कम रखने में मदद मिलताहै.



15. ग्रीन टी और भोजन की विषाक्तता: ग्रीन टी  में क्टैचिन पाया जाता है जो भोजन कोविषाक्त बनानेवाले बैक्टीरिया को मार देता है और हमें  भोजन के संक्रमण  से बचाता है.



16. ग्रीन चाय और रक्त शर्करा: म्र के साथ रक्त में शर्करा कीमात्रा बढ़ती जाती है. लेकिन हरी चाय रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करती  हैं.



17. ग्रीन टी और प्रतिरोधक क्षमता: ग्रीन टी  में पाया जानेवाला पोली फेनोल्स और फ्लैवाईनोइड्स  संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में हमारी मदद करते हैं. स्वास्थ्य प्रतिरक्षा प्रणाली कोमजबूत बनाते हैं.



18. ग्रीन टी और कोल्ड और फ्लू: ग्रीन टी  सर्दी या फ्लू होने से रोकता है. इसमें  मेंपाया जानेवाला विटामिन सी फ्लू और सर्दी के इलाज में मदद करता है.



19. ग्रीन टी और अस्थमा: ग्रीन टी में पाया जानेवाला थीयोफ़ैलीन   मांसपेशियों को आरामपहुंचता है जो ब्रोन्कियल ट्यूबों की मदद करता है और अस्थमा की गंभीरता को कम करता है.


20. ग्रीन टी और कान में संक्रमण:ग्रीन टी कान में संक्रमण की समस्या में मदद करता है.प्राकृतिक रूप से कान की सफाई के लिए एक रुई की  बाल को हरी चाय में डुबाकर संक्रमित कानको साफ किया जाता है.



21 . ग्रीन टी और दांतों की सड़न: ग्रीन टी  कई दंत रोगों को फैलानेवाले बैक्टीरिया और वायरस को नष्ट कर देता है. यह मुंह में बदबू पैदा करने वाले जीवाणुओं के विकास को धीमा कर देती है.



22 . ग्रीन टी और तनाव: ग्रीन टी में पाया जानेवाला एक अमीनो एसिड ( थीयानीन )तनाव और चिंता दूर करने में मदद कर सकते हैं.



23. ग्रीन टी और एलर्जी: ग्रीन टी में पाया EGCG  एलर्जी से राहत दिलाता है. यदि आपको एलर्जी है, तो आपको ग्रीन टी  पीने पर विचार करना चाहिए.

अटूट बंधन परिवार 
विभिन्न श्रोतों से एकत्रित  




अपनी  रचनायें .........editor.atootbandhann@gmail.com पर भेजे 







कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें