शनिवार, 6 जून 2015

एक दिन पिता के नाम



                                                               
                                                                       




एक दिन पिता के नाम 

************************
*हर साल जून महीने के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाया जाता है | इस साल यह २१ जून को मनाया जाएगा | मदर्स डे जहाँ भारी चहल -पहल के साथ मनाया जाता है वहीँ फादर्स डे धीरे से आ कर चुपचाप चला जाता है | माँ धरती है तो पिता आकाश है .... एक के आँचल में और दूसरे की क्षत्र छाया में ही हमारा जीवन आकर लेता है | ,संतान और पिता के मध्य एक स्नेह का दरिया बहता रहता है .... निराकार,निर्विकार निशब्द | सत्य है जहाँ हम माँ से बार बार अपने प्रेम की अभिव्यक्ति करते हैं वही पिता से इस भावना को शब्दों में बाँध कर कह नहीं पाते हैं | पर भाव तो रहते हैं ह्रदय में .... जो पिता के चरणों में समर्पित होना चाहते हैं | तो फिर देर कैसी ... कागज़ कलम उठाइये और अपने भावों को कविता ,कहानी संस्मरण या लेख के रूप में लिख डालिए .......
                                                 "अटूट बंधन "परिवार अपने ब्लॉग पर पूरे एक सप्ताह १५ जून से २१ जून तक फादर्स डे पर एक प्रतियोगिता आयोजित कर रहा है .... "एक दिन पिता के नाम "इस दौरान जो जो रचनाएँ "अटूट बंधन- के ब्लॉग पर प्रकाशित होंगी उनमें से सर्वश्रेष्ठ रचना के रचनाकार को "अटूट बंधन"- राष्ट्रीय हिंदी मासिक पत्रिका का एक वर्ष का मुफ्त सब्सक्रिप्शन प्रदान किया जायेगा | सर्वश्रेष्ठ रचना का चयन विशेष रूप से मनोनीत निर्णायक मंडल करेगा ,जिनके नामों की घोषणा बाद में की जायेगी |....आप अपनी रचनायें हमें editor.atootbandhan@gmail .com पर भेजिए | अपनी रचना के ऊपर "एक दिन पिता के नाम जरूर लिख दीजियेगा



atoot bandhan .............कृपया क्लिक करे  



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें